Skip to content

Zomato Success story in hindi 0 से 40 हजार करोड़ तक का सफर ,सुनकर रह जायँगे दंग…

Zomato success story 0 se 40 हजार करोड़ तक का सफऱ ये कहानी कही नहीं सुनी होंगी आज ही जाने आपके काम आएगी ये. Motivated story

Zomato India के सबसे कामयाब स्टार्टअप्स में से एक बन चूका है. और ये अब भारत में सबसे कामयाब

फूड टेक स्टार्टअप्स में से एक बन गया है और अब तो ये एक अंतर्राष्ट्रीय व्यवसाय में बदल गया है।

2008 में स्थापित

कार्यालयों में: गुड़गांव, हरियाणा

कुल अनुदान: $ 755.6 मिलियन

Zometo app screen shot
Zometo app screen shot

Founder and ceo

Founder and ceo
Zomato के founder और ceo दीपेंद्र गोयल का जन्म पंजाब में हुआ था। उन्होंने वर्ष 2005 में IIT दिल्ली से गणित

और कम्प्यूटिंग की डिग्री हासिल की। और अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद, उन्होंने एक निजी कंपनी के साथ काम करना शुरू किया.

दीपेंद्र गोयल founder of zomato
दीपेंद्र गोयल founder of zomato

Starting

Starting
ज़ोमैटो की कहानी दिल्ली में बैन एंड कंपनी के office room में शुरू हुई।पहले दीपिंदर और पंकज इस कंपनी

में काम करते थे. जब उन्होंने इस idea के बारे में सोचा। उन्होंने कई लोगों को लंच के समय एक लम्बी लाइन में

खड़े देखा और अपनी बारी आने पर अपने खाने का ऑर्डर दिया।

वहाँ से उन्हें “फूडीबे” का एक idea मिला. जो आगे जाकर ज़ोमैटो बन गया।



इसके लिए उन्होंगे सबसे पहले, अपने area के सभी manu items को स्कैन करना शुरू किया और उन्हें अपनी

वेबसाइट Foodiebay.com पर add कर दिया।

जब अचानक उन्हें , अपने वेबसाइट के ट्रैफ़िक में उछाल देखा , उन्होंने अपनी वेबसाइट को अब public के

लिए खोलने का सोचा।

उन्होंने अब डेली एनसीआर मै मौजूद सभी फेमस restaurants को क़ादरी करना शुरू कर दिया. दिल्ली के साथ वह

तेजी से कोलकाता और मुंबई जैसे बड़े बड़े शहरों में अपने aggregater offices खोलने लेगे।

Zometo office pics
Zometo office pics

नवंबर 2010 में उन्होंने फिर Foodiebay का नाम बदलकर Zomato रख दिया । उनका idea Foodiebay.com के रूप में शुरू हुआ था,


कंपनी के सभी लोगों ने इस सेवा को शुरू कर दिया और वेबसाइट मै अचानक ट्रैफ़िक का उछाल आने लगा ।

Application

Founders तब अपने customers के लिए जीवन को थोड़ा आसान बनाना चाहते थे और इसलिए उन्होंने अब एक मोबाइल एप्लिकेशन बनाना शुरू कर दिया ।



उन लोगों की समस्याओं को हल करने के लिए जो खाना नहीं बना सकते हैं या खाने के लिए उन्हें बाहर जाना पड़ता हैं, दो युवाओं, ने एक ऑनलाइन फूड ऑर्डरिंग और डिलीवरिंग प्लेटफॉर्म Zomato शुरू किया। जिसके माध्यम से लोग अपने घरों या office में बैठकर कभी भी अपने पसंद का खाना मंगवा सकते हैं।

Zometo app screen shot pics
Zometo app screen shot pics

Fundings raised by Zomato

Fundings raised by Zomato
जब किसी की कंपनी बहुत अच्छे से चलना शुरू हो जाती है जब उस कंपनी मै investors का आना जाना भी लग जाता है ऐसा ही कुछ zomato के साथ भी हुआ था


एक खबर के हिसाब से दीपिन्दर और पंकज का ये idea Naukri.com के founder संजीव बाखचंदानी को काफ़ी अच्छा लगा ।

READ more 👉👉 अब इन राज्यों मै होंगी शराब की होम डिलीवरी, नहीं करना होगा लाइन मै इंतज़ार.जाने अभी

Total funding

2010 और 2013 के बीच, Zomato को “इंफ़ॉर्म एज एज” से लगभग 16.7 मिलियन अमरीकी डालर (INR 167, 000, 00) का सबसे funding मिली।

इससे उन्हें कंपनी के पुरे 57.9% हिस्सेदारी देदी । नवंबर 2013 में, फंडिंग के एक और भाग्यशाली दौर को- सिकोइया कैपिटल में पिच करने के लिए एक नया निवेशक मिला।

वे इंफो एज के साथ उस दौर का कुल योग 37 मिलियन अमरीकी डालर ले गए। एक साल बाद एक नए दौर में, इन्फो एज, सिकोइया, और एक नए निवेशक- वीआई कैपिटल ने कंपनी के लिए 60 मिलियन अमरीकी डालर जुटाए।


2015 की शुरुआत तक ज़ोमैटो की कुल निधि, एक आशाजनक USD 113 मिलियन थी।


2015 में, 3 शुरुआती निवेशकों के साथ, टेमासेक- एक सिंगापुर आधारित निवेश कंपनी, भी पिच हुई, जो उस वर्ष 110 मिलियन अमरीकी डालर लेकर आई थी।


2016 फंडिंग के लिहाज से कंपनी के लिए एक धीमा साल था, लेकिन 2017 ने व्हाट्सएप के नीरज अरोड़ा के साथ फिर से तालमेल बिठाया और निवेशकों की सूची में 20 मिलियन डॉलर की बढ़ोतरी की।


इसने 2008 में अपनी स्थापना के बाद से Zomato की कुल निधि को 223.8 मिलियन अमरीकी डालर तक पहुंचा दिया।

फंडिंग के सबसे हालिया दौर के साथ, मार्च 2018 में कंपनी के लिए चीजें काफी पेचीदा लगने लगीं, खासकर अलीबाबा की चींटी फाइनेंशियल की तस्वीर में 150 मिलियन अमरीकी डालर के साथ

How Zomato earn money

Zomato एक बहुत बड़ी कंपनी बन चुकी है ये तभी होता है जब कोई कंपनी अपना प्रॉफिट बहुत अच्छा बना सके. प्रॉफिट बनाके के काफ़ी तरीके हो सकते है लेकिन Zomato के तरिके कुछ अलग है.

How does zometo earn money
How does zometo earn money

No. 1 Restaurant Listings / Advertising

Restaurant Listings / Advertising
अपने पहले अवतार में, Zomato सिर्फ restaurants listing app थी।
यह प्लेटफॉर्म से जुड़ने वाले restaurants से विज्ञापन में लाया गया। जब किसी भी restaurants से जब कोई खाना बुक करता है तब zometo उससे उस खाने का 20% से 25% कमिशन ले लेता है ये एक काफ़ी अच्छा तरीका है बिज़नेस करने का इसे aggregater business model भी कहते है.


इसके अलावा Zomato और भी कई तरह से पैसे कमाता है जैसे

No. 2 advertising
No. 3 live events
No. 4 white labeling product’s
No. 5 subscription programs

और हालही मै उन्होंने पैसे कमाने का एक और नया तरीका निकला है Zomato kitchens इसमें वे दुसरो के restaurants को Zomato का नाम दे देते है और उनसे एक monthly फी ले लेते है ये एक
रेस्टोरेंट्स चैन का बिज़नेस मॉडल कहलाता है.


READ more 👉👉 अगर आपका फोन भी चल रहा है स्लो (slow) तो कर लीजिए ये 3 दमदार सेटिंग

Groth

आज ज़ोमैटो दुनिया के पुरे 23 देशों में मौजूद है और यह लगातार बढ़ रहा है।

और ज़ोमैटो 23 देशों में 1 मिलियन कस्टमर का दयान रखती है।

और आज Zomato की valuation 5.4 billion dollars हो चुकी है अगर मै सिर्फ billion की बात करू तो एक billion इंडियन करेंसी मै 7000 cr के आस पास है बाकि आप खुद ही समझ सकते है की 5.4 billion dollars कितना हुआ.

Zometo growth
Zometo growth

अभी Zomato अपने मोबाइल ऐप पर ध्यान केंद्रित कर रहा है, और वे विज्ञापनों, और ऑनलाइन ऑर्डरिंग सिस्टम Zomato के माध्यम से पैसा कमा रही हैं और सभी कस्टमर को उनकी पसंद के रेस्टोरेंट खोजने में मदद करते हैं। Zomato कस्टमर और रेस्टोरेंट के मालिक के बीच मध्यस्थ होकर पैसे कमाता है।

Top competitors of जोमाटो

Zometo competitor in India
Zometo competitor in India

No. 1 swiggy

2014 में, Swiggy की स्थापना बैंगलोर के कोरामंगला में एक छोटे से office में की गई थी।,जब उनके पास

सिर्फ छह डिलीवरी एक्जीक्यूटिव और 25 पार्टनर रेस्टोरेंट थे ,

लगभग चार साल के फील्ड में, स्विगी अब दिल्ली, मुंबई, पुणे, पुणे जैसे बड़े बड़े राज्यों मै है , हैदराबाद, चेन्नई और कोलकाता। इतना ही नहीं,बल्कि वे 12,000 रेस्तरां और 13,000 से अधिक डिलीवरी अधिकारियों के साथ जुड़ चुके हैं। कंपनी द्वारा दर्ज किए गए RoC के आंकड़ों के अनुसार, 7,41,702 रुपये के टर्नओवर के साथ कंपनी की कुल संपत्ति आज 3,86,34,590 रुपये है

No. 2 food panda

Food panda ऑनलाइन फ़ूड डिलीवरी मै काफ़ी आगा है । इस ऐप में आपके सभी पसंदीदा भोजन रेस्टोरेंट

और फ़ूड आपको नज़र आने लगेंगे.

फूडपांडा अब कई शहरों में फैला हुआ है और कई लोगों के लिए खाना घर पर लाने का काम करता है, जो किसी न

किसी कारण से ऑनलाइन भोजन खोज रहे हैं। क्विक ऑर्डर डिलीवरी, एक्सक्लूसिव डील्स, डिस्काउंट, वाउचर,

और साल भर की छूट फूडपांडा की अन्य विशेषताएं हैं जो कस्टमर को आकर्षित करती हैं।
इसलिए ये zometo का एक काफ़ी अच्छा competitor बना हुआ है.

No. 3 deliveroo

डेलीवरू लंदन founded एक फूड ऑर्डरिंग ऐप है जो हाल ही में कई देशों में अपनी उपस्थिति बढ़ा रहा है।

आपके द्वारा ऑर्डर किया गया भोजन आपको व्यस्त घंटों और छुट्टियों में भी जल्दी से पहुंचा दिया जाता । कुशल

वितरण डेलीवरू की सबसे अच्छी विशेषताओं में से एक है।

आपके क्षेत्र में उपलब्ध सर्वोत्तम रेस्टोरेंट खोजे जा सकते हैं, और आपका पसंदीदा भोजन मिनटों में आपके पास पहुँच जाएगा।
ये भी एक zometo का काफ़ी अच्छा competitor बना हुआ है.

No. 4 Domino, s

अपने दरवाजे पर गर्म पिज्जा। डोमिनोज़ ऐप में हर अवसर के लिए एक पिज़्ज़ा है। आपका ऐप आपको ऑर्डर को

कस्टमाइज़ करने की अनुमति भी देता है। पिज्जा व्यंजनों अकल्पनीय और उंगली चाट अच्छे हैं।

Pizza घर मांगवाने के लिए आज कल सबसे अच्छा एप इसे ही मना जा रहा है इसीलिए ये अब जोमाटो का सबसे

बड़ा competitor की लिस्ट मै शामिल है

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Garima Chaurasia hot sexy viral photos & unknown facts ( Gima Ashi ) – Gautam Gambhir biography, Age, Height, Biography 2022 Wiki, Net Worth What Impact Does Sitting Have On Kidney Health? F1 Belgian Grand Prix 2022 result, highlights and analysis Artificial Intelligence Model Can Detect Parkinson’s From Breathing Patterns